घर हमारे बारे में विभाग मत्स्य पालन

    मत्स्य पालन

    नीलीक्रांति
    blue
    blue1
    blue2

    ‘नीलीक्रांति: मात्स्यिकी का एकीकृत विकास और प्रबंधन’ अधिक क्षमता को देखते हुए माननीय प्रधान मंत्री जी इसे मात्स्यिकी क्षेत्र में ‘क्रांति कहा है और इसे नीलीक्रांति का नाम दिया है। नीली क्रांति अपनी बहु-आयामी कार्यकलापों के साथ अंतर्देशीय और समुद्री दोनों में जलकृषि और मात्स्यिकी की संसाधनों से मात्स्यिकी उत्पादन और उत्पादकता में वृद्धि पर ध्यान केंद्रित करती है।

    उद्देश्य

    • आर्थिक सम्पन्नता हेतु उत्तरदायी और धारणीय तरीके से समग्र मछली उत्पादन में वृद्धि करना।
    • नई प्रौद्योगियों से संबंधित विशेष ध्यान सहित मात्स्यिकी को आधुनिकीकृत करना।
    • खाद्य और पौष्टिक सुरक्षा सुनिश्चित करना।
    • रोजगार और निर्यात लाभ का सृजन करना।
    • समग्र विकास सुनिश्चित करना और मछुआरों और जलकृषि किसानों को करना।

    नीलीक्रांति: मात्स्यिककी का एकीकृत विकास और प्रबंधन संबंधित केंद्रीय प्रायोजित योजना |

    कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय, डेयरी ओर मत्स्यपालन विभाग ने तदनुरूप से सभी जारी योजनाओं का नीलीक्रांति के छत्र के तहत विलय करने के पुन: सरंचना की है। राष्ट्रीय मात्स्यिकी विकास बोर्ड (एनएबी) द्वारा किए गए गहरे समुद्र में मत्स्यन मछलीपालन और सभी कार्य कलापों सहित अंतर्देशीय मात्स्यिकी जलकृषि समुद्र मात्स्यिकीक को कवर करते हुए मात्स्यिकी के विकास और प्रबंधन पर ध्यान केद्रित करता है

    नीलीक्रांति: मात्स्यिकी का एकीकृत विकास और प्रबंधन संबंधित केंद्रीय प्रायोजित योजना का गठन 5 वर्षों हेतु कुल 3000 करोड़ रूपए के केंद्रीय परिव्यय से गठित किया गया है इसके निम्नलिखित घटक है:

    क) राष्ट्रीय मात्स्यिकी विकास बोर्ड (एनएफडीबी) और इसके कार्यकलाप।
    ख) अंतर्देशीय मात्स्यिकी और जलकृषि 1
    ग) समुद्री मात्स्यिकी अवसंरचना और पोस्ट हार्वेस्ट परिचालनों का विकास।
    घ) मात्स्यिकी सेक्टर का डाटाबेस और भौगोलिक सूचना प्रणाली का सुदृढीकरण।
    ङ) मात्स्यिकी सेक्टर हेतु संस्थागत व्यवस्था1
    च) मानिटरिंग नियंत्रण और निगरानी (एमसीएस) और अन्य आवश्यकता आधारित हस्तक्षेप।
    छ) राष्ट्रीय मछुआरा कल्याण योजना।

    मात्स्यिकी की प्रोफाईल और क्षेत्र । फाईल
    1. मात्स्यिकी का क्षेत्र मूल से (126.9 केबी)
    2. भारत का मात्स्यिकी प्रोफाईल मूल से (214.4 केबी)
    3. पूर्ण अथवा कमीशन प्राप्त और निर्माणधीन मत्स्यन बदंरगाहों का राज्यवार विवरण (2.47 एमबी)
    मात्स्यिकी सेक्टर के विकास हेतु योजनाएं फाईल
    1. नीलीक्रांति से संबंधित केंद्रीय प्रायोजित योजना का प्रशासनिक अनुमोदन (3.12 एमबी)
    2. समुद्री मछली उतारने हेु सीएमएफआरआई डाटा संग्रहण प्रणाली (4.15 एमबी)
    3. आईएमएफसी अक्टूबर 2017 (1.93 एमबी)
    4. संशोधित प्रशासनिक अनुमोदन दिनांक 1 जनवरी 2018 (4.5 एमबी)
    5. नीलीक्रांति – मात्स्यिकी का एकीकृत विकास और प्रबंधन संबंधित सीएसएस के दिशा निर्देश के परिशिष्ट 24.07.2017 (4.91 एमबी)
    6. ‘गहरे समुद्र में मत्स्यन हेतु सहायता’ ‘नीलीक्रांति योजना के दिशा निर्देश के परिशिष्ट दिनांक 09.03.2017 (1.95 एमबी)
    7. नीलीक्रांति- मात्स्यिकी का एकीकृत विकास और प्रबंधन संबंधित सीएसएस के दिशानिर्देश (258.57 केबी)
    8. नीलीक्रांति कवरिंग पत्र संबंधित केंद्रीय सेक्टर का कार्यान्वयन (3.78 एमबी)
    9. नीलीक्रांति संबंधित केंद्रीय सेक्टर योजना को प्रशासनिक अनुमोदन (3.94 एमबी)
    10. 2015-16 के दौरान राज्यों/संघ राज्य क्षेत्रों में अन्तर्देशीय मात्स्यिकी और जलकृषि के विकास से संबंधित केंद्रीय प्रायोजित योजना का कार्यान्वयन (4.84 एमबी)
    11. केंद्रीय सेक्टर के रूप में समुद्री मात्स्यिकी अवसंरचना और पोस्ट हार्वेस्ट परिचालनों के विकास संबंधित केंद्रीय प्रायोजित योजना को जारी रखना (5.07 एमबी)
    12. वर्ष 2015-16 के दौरान राज्यों/ संघ राज्य क्षेत्रों में प्रशासनिक अनुमोदन केंद्रीय क्षेत्र की योजना ‘राष्ट्रीय मछुआरा कल्याण योजना’ का कार्यान्वयन (8.28 एमबी)
    13. वर्ष 2015-16 के दौरान प्रशासनिक अनुमोदन राज्यों/संघ राज्य क्षेत्रों में केंद्रीय सेक्टर की योजना ‘ राष्ट्रीय मछुआरा कल्याण योजना’ का सुधार-कार्यान्वयन (667.73 केबी)
    14. डालर्स का संशोधन विशेष गहरे समुद्र में मत्स्यन यानों का विलय-प्रशासनिक अनुमोदन (2.41 एमबी)
    विभाग के नियंत्रण के तहत मात्स्यिकी संस्थान ।
    1. केंद्रीय मात्स्यिकी नौचालन और इंजीनियरिंग प्रशिक्षण संस्थान (सिफनेट) कोचीन
    2. केंद्रीय तटवर्ती इंजीनियरिंग मात्स्यिकी संस्थान (सीआईसीईएफ), बंगलौर
    3. भारतीय मात्स्यिकी (एफएसआई) मुम्बई
    4. राष्ट्रीय मात्स्यिकी पोस्ट हार्वेस्ट प्रौद्योगिकी और प्रशिक्षण संस्थान (निफेट कोचीन)
    5. तटवर्ती जलकृषि प्राधिकरण (सीएए) चेन्नई।
    6. राष्ट्रीय मात्स्यिकी विकास बोर्ड (एनएफडीबी) हैदराबाद।
    7. राष्ट्रीय मछुआरा सहकारिता लि. परिसंघ (फिश कॉफेड) नई दिल्ली
    दिशानिर्देश और नितियां फाईल
    विशेष रोगजनक मुक्त (एसपीएफ) श्रिम्प ब्रूडस्टाक बहुगुणन केंद्रों (बीएमसी) की स्थापना और परिचालन को नियमित करने हेतु दिशानिर्देश और श्रिम्प बीएमसी की स्थापना हेतु प्रस्ताव प्रस्तुत करने हेतु प्रपत्र -
    1. मछली बीज डाटा सं संबंधित दिशानिर्देश (21.06.17) (409.48 केबी)
    2. सब्सिडी पैटर्न का विवरण (21.6.17) (628.7 केबी)
    3. आरकेवीवाई अतिरिक्त प्रस्ताव 2017-18 (12.06.17) (390.49 केबी)
    4. लाभार्थी बीआर की सूची (6.6.2017) (282.58 केबी)
    5. आरकेवीवाई प्रस्ताव 2017-18 (24.4.2017) (86.12 केबी)
    6. आरकेवीवाई प्रस्ताव 2017-18 (20.03.2017) (63.58 केबी)
    7. आरबी योजना के तहत अव्ययित शेष का पुनवैद्यीकरण (15.05.2017) (798.75 केबी)
    8. वित्तीय वर्ष 2017-18 हेतु आरबी योजना के तहत अंनतिम आवंटन (9.5.17) (625.25 केबी)
    9. राष्ट्रीय अंतर्देशीय और जलकृषि निति (30.41 केबी)
    10. एशियन सीवास/बारामुण्डी (लेट्स कालकैरीफर) बीजों फिंगरलिंग्स के आयात हेतु दिशानिर्देश (332.09 केबी)
    11. अंतर्देशीय मात्स्यिकी और जलकृषि संबंधित बिल के फ्रेमिंग हेतु राज्यों हेतु दिशा निर्देश (5.1 एमबी)
    12. भारत में मछली बीज प्रमाणीकरण और मान्यता विकसित करने हेतु दिशानिर्देश (21.09 एमबी)
    13. तट के तहत निटोपेनियस वन्रामेई को प्रारम्भ करने हेतु हैचरियों और फार्मों को नियमित करने हेतु दिशानिर्देश के संबंध में अधिसूचना (90.43 केबी)
    14. एसपीएफ के कल्चर दिशानिर्देश (1.94 एमबी)
    15. दिनांक 29.09.2011 केा एफडब्लू में एल वन्रामेई दिशानिर्देश (1.84 एमबी)
    16. लिटोपेनियस वन्रामेई को प्रारम्भ करने हेतु हैचरियों और फार्मों को नियमित करने हेतु दिशानिर्देश में संशोधन (614.6 केबी)
    17. तटवर्ती जलकृषि प्राधिकरण नियम, 2005 संशोधन अधिसूचना (1.53 एमबी)
    18. लिटोपेनियस वन्रामेई लेने हेतु पेनियस मोनोडोन कल्चर हेतु फार्मों हेतु दिशानिर्देश के संबंध में अधिसूचना (2.96 एमबी)
    19. जीवित जलीय जीवों केा लाने हेतु प्रस्ताव प्रस्तुत करने हेतु प्रपत्र (318.96 केबी)
    20. विशेष रोगणु जनक मुक्त (एसपीएफ) पेनियस मोनोड के बीज उत्पादन और कल्चर हेतु दिशानिर्देश के संबंध में अधिसूचना को अपलोड करना। (12.03 एमबी)
    21. एनएमपीएस 2012-13 मात्स्यिकी दिशानिर्देश (231.67 केबी)
    22. तिलापिया नीति दिशानिर्देश (231.67 केबी)
    जलीय पशुपैथोजन और रिंग जांच के पीसीआर निदान में क्षमता निर्माण और समानीकरण फाईल
    डब्लू एसएसवी पीसीआर रिंग जांच 2017 में सफलता पूर्वक पास की गई प्रयोगशालाओं की सूची (427.48 केबी)
    सम्मेलन/ कार्यशालाएं
    भुवनेश्वर में राज्य मंत्रियों द्वारा किए गए राष्ट्रीय सम्मेलन की कार्यवाई और संस्तुतियां (4 से 5 जुलाई, 2009)
    Capacity building and harmonisation in PCR diagnosis of aquatic animal pathogens and ring-test फाईल
    1. कार्यालय आदेश अधिसूचना आर्थिक क्षेत्र में गहरे समुद्र में मत्स्यन का उपक्रम दिनांक 3 अगस्त 2017 (1.22 एमबी)
    2. भारतीय ईईजेड में गहरे समुद्र में मत्स्यन यानों के परिचालनों हेतु दिशानिर्देश को रद्द करना। (1.13 एमबी)
    3. गहरे समुद्र में मत्स्यन यानों का पंजीकरण (385.95 केबी)
    4. सीएएमसी के परामर्श आदेश (909.34 केबी)
    विवरण फाईल
    प्रतिबंधित अवधि की समीक्षा करने हेतु तकनीकी समिति की रिपोर्ट और कान को सुद्दढ़ करने हेतु आगे के उपायों को सुझाव देना (2.7 एमबी)
    पणधारियो के प्रतिक्रिया की प्रश्नावली
    1. खारा जल सहित अंतर्देशीय जलकृषि
    2. नदियां, जलाशय और नमभूमि सहित अंतर्देशीय कैप्चर मात्स्यिकी
    संपर्क विवरण
    संपर्क व्यक्ति